प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल का करेंगे विस्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे इसलिए कई मंत्रियों ने पहले ही दे दिया इस्तीफा
3 सितंबर यानी के रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे रविवार को 10:00 बजे मंत्रियों के बारे में उनके परिषद मे सुधार करेंगे।

मंत्रिमंडल में फ़ेरबदल की जाएगी 4 सितंबर को मंत्रिमंडल के सदस्य द्वारा शपथ ली जाएगी कई मन्त्रियो ने पहले ही इस्तीफा दे दिए हैं इनके इस्तीफे भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह को सोपे गए हैं। इस्तीफे  में शामिल मंत्री उमा भारती है जो कि जल संसाधन मंत्री हैं ऑर कौशल विकास मंत्री राजेश प्रताप रुडी फ़ग्गन कुलस्ते , संजीव बालियान ने इस्तीफा दिया है मेल मंत्री सुरेश प्रभु ने पहले ही पेश किया था।

बैठक के दौरान वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि "मुझे लगता है की रक्षा मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी मेरे पास ज्यादा दिनों तक नहीं रहेगी" इस बात से कैबिनेट को और बल मिला। मंत्रिमंडल का विस्तार करने के बाद 5 नए चेहरे मंत्रिमंडल में शामिल किए जा सकते हैं प्रहलाद पटेल ,  सत्यपाल सिंह ,  प्रहलाद जोशी , ओम माथुर को मंत्री बनाया जा सकता है जिसमें विनय सहस्त्रबुद्धे को भी लाया जा सकता है।

चीन जाने से पहले जो मंत्रालय पद खाली है उनहे नियुक्तिया देनी जरुरी है इसके अलावा कई मंत्रालय के मंत्रियों के काम आसान हो जाएंगे जैसे स्मृति इरानी और नरेंद्र तोमर नायडू के उपराष्ट्रपति बन जाने के बाद भी मंत्रालय के पद संभाले हुए हैं। जिससे मंत्रालय का भार और भी ज्यादा बढ़ जाता है लेकिन अब फ़ेरबदली के कारण मंत्रियों के भार हल्के होने की आशंका है इसी के तहत पी एम pm नरेंद्र मोदी ने और भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने इस सिलसिले में बात की ऑर फ़ैसला किया है कि रविवार सुबह को ही कैबिनेट का विस्तार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे।

जिसमें वहां मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे 3 सितंबर को pm मोदी चीन ब्रेसित सम्मेलन में हिस्सा लेने जाएंगे और केबिनेट विस्तार का फैसला भी उसी दिन किया जाएगा। मंत्रिमंडल विस्तार के बाद भाजपा संगठन में भी फ़ेरबदल किया जाएगा।

Online Hindi News ऑनलाइन हिंदी न्यूज़ पोर्टल में आप सभी देश और उत्तराखण्ड की न्यूज़  (उत्तराखंड हिंदी समाचार ) अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़ सकते हैं और हमें अपने सुझाव व् न्यूज़ todayhindisamachar@gmail.com पर भेज सकते हैं।

Comments