किडनी घोटाले का भंडाफोड़

पुलिस को मिली गुप्त जानकारी के बाद एक टीम ने किडनी रैकेड का भंडाफोड़ करने की रणनीति बनाई ऑर कामयाबी भी मिली किन्तु  किडनी रैकेट का लीडर फ़रार हो गया है जब उसे पता चला कि उसके साथी गिरफ़्तार हो गये हैं देहरादून के डेंटल कॉलेज से चल रहा किडनी रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है किडनी बेचने वाले दो लोग गिरफ्तार हो चुके हैं लेकिन जो किडनी रैकेट मास्टमाइंड अभी भी फरार है

देहरादून में एक बड़े किडनी रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है ऑर यह किडनी रैकेट पुलिस ने डोईवाला के लालतप्पड़ स्थित उत्तरांचल डेंटल कॉलेज में चल रहे इस किडनी  घोटाले का पर्दाफाश किया
है ऑर इस  रैकेट मे जुड़े 5 लोगों को गिरफ्तार भी किया है ऐसा कहा जा रहा है कि लोगों की किडनी निकालने और किडनी बेचने का काम देहरादून में होता था

जबकि किडनी बेचने वालों को उनका पैसा दिल्ली में जाकर दिया जाता था इस किडनी रैकेट का लीडर डॉ. अमित रावत पुलिस की कार्रवाई की सूचना पाकर फरार हो गया है पुलिस ने जब तलाशी ली तो बाहर जाने के कुछ हवाई टिकट भी मिले हैं  जिसके बाद सम्भावना यह जताई जा रही है कि कही किडनी रैकेट के मेल अंतरराष्ट्रीय गैंगों से जुड़े हैं

Online Hindi News ऑनलाइन हिंदी न्यूज़ पोर्टल में आप सभी देश और उत्तराखण्ड की न्यूज़  (उत्तराखंड हिंदी समाचार ) अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़ सकते हैं और हमें अपने सुझाव व् न्यूज़ todayhindisamachar@gmail.com पर भेज सकते हैं।

Comments