अवैध खनन को लेकर दून पुलिस के नाम पर एक और कलंक

अवैध खनन को लेकर दून पुलिस के नाम पर एक और कलंक लग गया है रायपुर पुलिस ने पूरी दून पुलिस की नाक कटा दी है माना जाता अगर  छोटे स्तर के पुलिसकर्मि ऐसा करते तो समझा जा सकता है लेकिन यदि खुद थाने का सबसे बड़ा पुलिसकर्मी भी इस अवैध कारोबार का सेनापति बन कर सामने आया है कानून व्यवस्था किस प्रकार थाना क्षेत्र में चल रही होगी  रायपुर थाना क्षेत्र में अवैध खनन को इंस्पैक्टर के संरक्षण में ही चलाया जा रहा था  यह एक बहुत ही ज्यादा अपराध वाली बात है

सोचिये जब उन परिस्थितियों में जब एक कर्मठ ईमानदार छवि की एसएसपी जनपद की कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए दिन रात एक किए हो ऐसा बताया जा रहा है कि रायपुर पुलिस के बारे में पहले से ही शिकायत मिल रही थी कि अवैध खनन चल रहा है जिस तरह से अवैध खनन हो रहा था उससे तो लग रहा था कि किसी को किसी का डर ही नहीं है

छानबीन पूछताछ की गयी तो दूध का दूध और पानी का पानी हो गया है रायपुर पुलिस की पहचान एक दम साफ़ नजर आई है खुद इंस्पेक्टर की नाक के नीचे ही खनन का अवैध  काम चल रहा था समझा जा सकता है कि आखिर क्यों तमाम थाना क्षेत्रों में अवैध खनन पर रोक नहीं लग पा रही है ऐसा नहीं है कि रायपुर इंस्पैक्टर के राज में ही यह खेल चल हो, क्या पता इससे पहले के थाना नरेशों की भी यही पहचान न हो

हर पुराना थानेदार नए प्रभारी को जिम्मेदारियां हैंडओवर बताए हुए हैं ठीक उसी प्रकार से काले कारोबार का यह खेल भी एक हाथ से दूसरे हाथों में सौंपा जाता है अवैध खनन में फंसे इंस्पैक्टर भी नए दरोगा से निरीक्षक बने है इनका क्या पुराना रिकार्ड रहा होगा, जिस पर प्रमोशन मिल गया होगा? लेकिन कुछ ऐसे पुलिसकर्मी पूरे तंत्र को बदनाम एवं गंदा करते हैं कहते हैं ना की एक मछली पूरे तालाब को गन्दा करती है ये बात यह भी लागू होती है इसकी भी फाईल विभाग को खोल देनी चाहिए ताकी साफ हो जाएगा कौन सबसे बड़ा भ्रष्ट है ऐसा नहीं है कि पूरा पुलिस तंत्र भ्रष्ट है,  जिनके खिलाफ आपराधिक मामलों के तहत भी कार्रवाई होनी चाहिए

Online Hindi News ऑनलाइन हिंदी न्यूज़ पोर्टल में आप सभी देश और उत्तराखण्ड की न्यूज़  (उत्तराखंड हिंदी समाचार ) अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़ सकते हैं और हमें अपने सुझाव व् न्यूज़ todayhindisamachar@gmail.com पर भेज सकते हैं।

Comments