उत्तराखंड में आशा वर्कर्स की हड़ताल से पड़ा पल्स पोलियो अभियान पर असर

उत्तराखंड में आशा वर्कर्स  की हड़ताल के कारण पल्स पोलियो अभियान पर असर स्वास्थ्य विभाग के द्वारा पल्स पोलियो अभियान में बच्चों को पिलाई जाने के लिये एनजीओ ( NGO ) के माध्यम से कुछ महिलाओं को पल्स पोलियो की ड्यूटी पर लगाया गया है जिन महिलाओं को पल्स पोलियो अभियान की ड्यूटी पर लगाया गया है उन महिलाओं पोलियो जैसी गंभीर बीमारी के बारे में कोई भी जानकारी नहीं है और ना ही उन्हें उसके बचाव के लिए पिलाई जा रही दवाई के बारे में कोई भी जानकारी है

कई पल्स पोलियो के बूथो में देखने को मिला की पल्स पालियो की दवाई वाली की किट को लावारिस की तरह छोड रखा था जिससे कोई भी व्यक्ति बडी असानी से उस किट से छेडछाड कर सकता था ऑर एक बडी दुर्घटना का अंजाम भी दे सकते था स्वास्थ्य विभाग के द्वारा एनजीओ के माध्यम से पल्स पोलियो की डयूटी पर लगाई गई महिलाओं ने यह बताया है कि बिना आशा कार्यकर्ताओं को उनको बडी दिक्कतो का सामना करना पड़ रहा है Get here Independence Day Speech in Hindi and Independence Day Speech In Telugu.

आशा कार्यकर्ताओं के हड़ताल का असर ऐसा पड रहा है कि जहां दो महिलाओं की ड्यूटी होती थी वहां पर सिर्फ़ एक महिला ही पूरा काम संभाल रही है ऐसे में यह साफ जाहिर है कि स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के कारण कई छोटे मासूमो की जिंदगी दांव पर लगी हुई है कोई भी ऑर किसी भी तरह की कोई भी अनहोनी को रोकने के लिए प्रदेश सरकार को जल्द ही कड़े कदम उठाने होंगे

Online Hindi News ऑनलाइन हिंदी न्यूज़ पोर्टल में आप सभी देश और उत्तराखण्ड की न्यूज़  (उत्तराखंड हिंदी समाचार ) अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़ सकते हैं और हमें अपने सुझाव व् न्यूज़ todayhindisamachar@gmail.com पर भेज सकते हैं।

Comments