आस्था के नाम पर कानून हाथ में लेने का अधिकार किसी को नहीं: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

मन की बात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह कहा है कि धर्म और आस्था के नाम पर कानून हाथ में लेने का किसी को अधिकार नहीं है। रेडियो कार्यक्रम "मन की बात" के द्वारा ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता को संबोधित किया प्रधानमंत्री पीएम मोदी ने कहा कि जब उत्सवों के बीच हिंदुस्तान में कहीं से भी हिंसा और दंगे की खबरें आती है तो पूरा देश का चिंता में होना स्वाभाविक है।पंचकूला हिंसा मामले के बिना बात कहे हुए पीएम मोदी ने यह कहा की आस्था और धर्म के नाम पर कानून हाथ में लेने का अधिकार किसी को नहीं है।

फिर उन्होंने सभी को गणेश पूजा की शुभकामनाएं दी और यह कहा कि जैसे कि गणेश चतुर्थी की धूम धाम हर कोने में मची हुई है। इस पर्व को शुचित व समता का प्रतीक माना जाता है पर्यावरण के प्रति लोगों को सचेत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा की सजगता एक नया (डायमेंशन) [Dimension] पहलू है अगर आप इको-फ्रेंडली [Eco friendly] व्यवहार के खिलाफ हैं तो समाज में यह बुरा माना जाता है।

इको फ्रेंडली [Eco friendly] का जिक्र करते हुए कहा कि घर में बच्चे मिट्टी लाकर गणेश जी को अपने हाथ से बना रहे हैं उसमें रंग (कलर) भी खुद ही बना रहे हैं कोई सब्जी का कलर लगा रहा है तो कोई कागज के टुकडे लगा रहा है। उसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने स्वच्छता का जिक्र करते हुए कहा है, कि 2 लाख 60 हज़ार यानी कि लगभग ढाई लाख गांव में खुले में शौच से अपने आप को मुक्त घोषित करने का एलान कर रहे हैं।
इस बार 2 अक्टूबर पे 3 साल हो जाएंगे "स्वच्छता का अभियान" शुरु किए हुए पीएम मोदी ने अपील करते हुए यह कहा है कि "स्वच्छता ही सेवा" है। 2 अक्टूबर के 15 - 20 दिन पहले से ही स्वच्छता की मुहिम चलाई जाए पूरे भारत में स्वछता का महल बनाए 2 अक्टूबर से 15 दिन पहले ही स्वछता का वातावरण बनाए यही अपील की प्रधानमंत्री मोदी ने उसके बाद उन्होंने देश भर में आई बाढ़ व जीएसटी का जिक्र किया । 

बिहार तथा अन्य गांवों में नुकसान हो जाने का जिक्र किया उन्होंने दुख जताते हुए कहा कि बाढ़ के कारण कई लोग अपने घरों से बेघर हो गए हैं बहुत लोगों की मौत हो चुकी है तथा कई लोग घायल हैं किसानों को बहुत भारी नुकसान हुआ है उन्होंने गंदगी , गरीबी , जातिवाद आदि का नारा भी लगाया।

राष्ट्रीय खेल दिवस (World Games Day) 29 अगस्त के बारे में भी कहा हॉकी प्लेयर में मेजर ध्यानचंद्र का जन्मदिवस है। हमारे देश की नई पीढ़ी खेल से जुड़े खेल हमारे जीवन का हिस्सा है पीएम मोदी ने यह भी कहा कि मोबाइल या फिर कंप्यूटर के प्ले स्टेशन से कहीं ज्यादा अच्छा यह है कि अपने खेल की प्रतिभा मैदान में दिखाएं खेल में प्रतिभाग ले उन्होंने यह भी कहा है कि पूरे भारत में कोई भी बच्चा जिस खेल में रुचि रखता है।

स्पोर्ट्स टैलेंट सर्च पोर्टल (Sports Talent Search Portal) तैयार किया गया है इस पोर्टल (Portal) में वह आपने बायोडाटा व वीडियो अपलोड कर सकता है जिससे मंत्रालय बच्चों का प्रशिक्षण देगा। मंत्रालय कल ही पोर्टल लॉन्च करेगा  पीएम मोदी ने मन की बात का प्रसारण 18 भाषाओं में किया।

Online Hindi News ऑनलाइन हिंदी न्यूज़ पोर्टल में आप सभी देश और उत्तराखण्ड की न्यूज़  (उत्तराखंड हिंदी समाचार ) अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़ सकते हैं और हमें अपने सुझाव व् न्यूज़ todayhindisamachar@gmail.com पर भेज सकते हैं।

Comments