मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए लगभग 2500 छात्रछात्राओं से की बात

प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बुधवार को सचिवालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के लगभग 2500 छात्रछात्राओं से सीधा संवाद किया। ‘‘भारत छोड़ो आंदोलन‘‘ की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर जन संवाद की श्रृंखला प्रारंभ करते हुए मुख्यमंत्री ने छात्रछात्राओं से प्रदेश एवं देश के विकास में बढ़ चढ़ कर योगदान करने का आह्वान किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सभी बच्चों को स्वच्छता, जलसंचय, वृक्षारोपण, नशा मुक्ति एवं नशे के विरोध तथा भ्रष्टाचार की समाप्ति का संकल्प भी दिलवाया।

राज्य के इतिहास में पहली बार प्रदेश के मुख्यमंत्री तथा राज्य भर में ब्लोॅक स्तर तक विद्यालयी छात्रछात्राओं के मध्य वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सीधा संवाद हुआ। लगभग 2 घण्टे तक मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र तथा राज्य के दूरस्थ क्षेत्रो के छात्रछात्राओं के मध्य अनौपचारिक तथा रोचक बातचीत हुई। उत्साहित तथा जिज्ञासु छात्रछात्राओं द्वारा विभिन्न क्षेत्रीय, सामाजिक समस्याओं से लेकर जिले, राज्य तथा राष्ट्रीय महत्व के महत्वपूर्ण प्रश्नों के साथ ही मुख्यमंत्री के निजी जीवन से सम्बन्धित रोचक प्रश्न भी किए गए। वही दूसरी ओर छात्रछात्राओं के आत्मविश्वास से प्रभावित मुख्यमंत्री ने सभी सवालों के जबाव बड़ी सहजता व गम्भीरता से दिए।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रदेश भर के 119 तहसील तथा स्वान केन्द्रों, 56 विलेज लेवल एंटर प्रेन्योर सेन्टर, 13 जिला एनआईसी तथा 13 जिला स्वान केन्द्र पर आए लगभग 2500 छात्रछात्राओं से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सीधे संवाद किया। उन्होने भारत छोड़ो आन्दोलन की 75वी वर्षगांठ पर देश की आजादी में अपने प्राणों की आहूति देने वाले शहीद वीर केसरी चन्द और शहीद वीर दुर्गामल्ल को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए उनके योगदान का स्मरण किया।

उन्होंने कहा की अच्छे शिक्षक कई बार संसाधनो की कमी का अहसास नही होने देते। सरकार प्रत्येक ब्लाॅक में माॅडल स्कूल खोलने जा रही है। भविष्य में आर्थिक स्थिति के अनुसार इनका विस्तार भी किया जायेगा। कनिका ने प्रश्न किया कि मुख्यमंत्री अपने राजनैतिक व्यस्तताओं के बीच समय की कमी के कारण परिवार को किस प्रकार समय देते है मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि जब हम बडे़ उद्देश्यों के लिए बड़ी सोच के साथ कार्य करते है तो हम सब घरों को अपना घर मानते है। सारा समाज हमारा घर व परिवार है, तो हमें कोई समस्या नहीं होती।

Online Hindi News ऑनलाइन हिंदी न्यूज़ पोर्टल में आप सभी देश और उत्तराखण्ड की न्यूज़  (उत्तराखंड हिंदी समाचार ) अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़ सकते हैं और हमें अपने सुझाव व् न्यूज़ todayhindisamachar@gmail.com पर भेज सकते हैं।

Comments