ऑल वेदर रोड्स की प्रगति की समीक्षा

मुख्य सचिव एस.रामास्वामी ने मंगलवार को सचिवालय मे चारधाम परियोजना(ऑल वेदर रोड्स) के प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने सख्त लहजे में कहा की सभी संबंधित अधिकारी आपस में समन्वय से कार्य करें। जिलाधिकारी प्रत्येक सोमवार को बैठक कर कार्य की प्रगति से शासन को अवगत कराएं। शासन स्तर पर भी अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश प्रत्येक शनिवार को समीक्षा बैठक कर रहे हैं। वर्ष 201920 तक चारधाम परियोजना को पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है।

सितंबर 2017 भूअधिग्रहण और वन भूमि हस्तांतरण का टाइम फ्रेम तय किया गया है। बैठक में बताया गया कि 11,700 करोड रुपए की लागत से 889 किमी बनने वाली ऑल वेदर रोड्स का निर्माण समय से पूरा करने के लिए उच्च स्तर पर लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है। परियोजना के तहत ऋषिकेशरुद्रप्रयाग मार्ग(140 किमी), रुद्रप्रयागमाणा(160 किमी), ऋषिकेशधरासू (144 किमी), धरासूगंगोत्री(124 किमी), धरासूयमुनोत्री(95 किमी), रुद्रप्रयागगौरीकुंड(76 किमी), टनकपुरपिथौरागढ़ मार्ग(150 किमी) है।

इसी परियोजना में दो सुरंग(चंबा और राड़ी टाप), 15 बड़े पुल, 101 छोटे पुर, 3596 कलवर्ट, 29 भूस्खलन जोन की सुरक्षा और प्रत्येक 1350 किमी पर सड़क किनारे जन सुविधाएं उपलब्ध होगी। बैठक में सभी सात पैकेज की अलगअलग समीक्षा की गई। भूमि अधिग्रहण और वन भूमि हस्तांतरण के लिए विभिन्न प्रक्रियाओं की टाइम लाइन तय की गई। बैठक में अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश, सचिव राजस्व हरवंश सिंह चुघ, सचिव वन अरविंद सिंह ह्यांकी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Online Hindi News ऑनलाइन हिंदी न्यूज़ पोर्टल में आप सभी देश और उत्तराखण्ड की न्यूज़  (उत्तराखंड हिंदी समाचार ) अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़ सकते हैं और हमें अपने सुझाव व् न्यूज़ todayhindisamachar@gmail.com पर भेज सकते हैं।

Comments