अगस्त में 10 दिनों के अंदर चौथा रेल हादसा

महाराष्ट्र में नागपुर से मुंबई जा रही ट्रेन ( Train ) दुरतो एक्सप्रेस ( Express ) का इंजन और डिब्बे पटरी से उतर गए ड्राइवर की सूझबूझ के कारण लोगों की जान बच गई रेल हादसे में ट्रेन के डिब्बे पटरी से उतर गए रेल हादसे में कुछ लोगों के घायल होने की सूचना प्राप्त हुई है नागपुर से मुंबई जा रही दुरंतो एक्सप्रेस  आलनगांव वासिंद के बीच रेल हादसा हुआ है । यह हादसा सुबह 6:00 बजे करीब हुआ। रेल हादसा आसनगांव रेलवे स्टेशन के पास हुआ रेसक्यू की टीम मौके पर पहुंची ।

रेल हादसे में किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है लेकिन कुछ लोग मामूली तौर पर जख्मी हो गए हैं।
रेलवे के पीआरओ ( PRO ) सुनील उदासी ने यह बताया है कि भारी बारिश के कारण जमीन धसने की वजह से यह रेल हादसा हुआ है। जिसके कारण रेल हादसा बच पाया है ड्राइवर में इमरजेंसी ब्रेक लगाकर अपनी समझदारी दिखाई इससे यात्रियों की जान बची ट्रेन यात्रियों का कहना यह है कि जहां रेल हादसा हुआ वही कुछ दूरी पर भूस्खलन हुआ था यह देख ड्राईवर ने एकदम से ब्रेक लगा दिया जिसकी वजह से ट्रेन के यात्री सुरक्षित है।

देश मे यह 10 दिनो के अन्दर 4 रेल हादसा है इससे पहले रेल हादसा 19 अगस्त को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में कलिंग उत्कल एक्सप्रेस पटरी से उतर गई थी उत्कल एक्सप्रेस के 14 डिब्बे खतौली स्टेशन के पास पटरी से उतर गए थे इस रेल हादसे में 22 लोगों की मौत हो गई थी और 100 लोगों से गायब हो गए थे।

दूसरा रेल हादसा 23 अगस्त को उत्तर प्रदेश में ही आदमी के पास आजमनगर से दिल्ली जा रही कैफियत एक्सप्रेस के 9 डिब्बे पटरी से उतर गए रेल हादसे में 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे इन दो रेल हादसों की घटनाओं के बाद रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ए के ( AK ) मित्तल ने इस्तीफा दे दिया था । केंद्र सरकार ने इस्तीफा मंजूर करते हुए एयर इंडिया ( AIR INDIA ) के प्रमुख अश्वनी लोहानी को रेलवे बोर्ड का अध्यक्ष नियुक्त कर दिया है ।

वही तीसरा रेल हादसा बीते शुक्रवार 25 अगस्त मुंबई में हुआ था हार्बर लाइन की सी एस एम टी ( CSMT ) अंधेरी लोकल ट्रेन के चार डिब्बे पटरी से उतर गए इस दुर्घटना रेल हादसे में 5 लोग घायल हो गए थे
और चौथा रेल हादसा 30 अगस्त को मुंबई के महाराष्ट्र में दुरंतो एक्सप्रेस में हुआ।

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी में रेलकर्मियों को पत्र लिखा है और उस पत्र में उन्होंने यह लिखा है कि पिछले कुछ दिनों से रेल हादसे होते जा रहे हैं रेल दुर्घटनाओं में रेलवे की छवि को खराब किया है रेल हादसों के कारण हमारे कामकाज पर सवाल उठ रहे हैं पत्र के माध्यम से रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने पूरे सिस्टम में बदलाव के लिए जोड़ दिया है।

उन्होंने पत्र में यह भी लिखा है कि काम काज को और ठीक करने के लिए कर्मचारियों को अनुशासित होना पड़ेगा रेलवे को स्वच्छ और कचरा रहित बनाने की शुरुआत के लिए उन्होंने अपने ही मेज से शुरुआत करी उन्होंने यह भी नसीहत दी है कि महिलाओं के साथ अच्छा बर्ताव करे ,  काम करनेे वाली जगहों पर शराब से परहेज करें ,  रेल भवन में वरिष्ठ अधिकारियों के कक्षों से नेम प्लेट हटाने का आदेश दिया है।

Online Hindi News ऑनलाइन हिंदी न्यूज़ पोर्टल में आप सभी देश और उत्तराखण्ड की न्यूज़  (उत्तराखंड हिंदी समाचार ) अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़ सकते हैं और हमें अपने सुझाव व् न्यूज़ todayhindisamachar@gmail.com पर भेज सकते हैं।

Comments