नीट पेपर लीक मामला ये है कोर्ट से बड़ा भगवान neet 2017 result who is god see news

नीट पेपर लीक मामला ये है कोर्ट से बड़ा भगवान Neet 2017 result who is god see news

नीट पेपर लीक मामले को लेकर इन दिनों सोशल साइट पर नयी बहस तेज़ हो गयी है कुछ लोग नीट पेपर को जहा करोड़ो का घोटाला करार दे रहे है वही कुछ ऐसे भी है जो अपने को भगवान समझ कर बच्चो के भविष्ये के साथ मजाक कर रहे है उनके लिए अपना कारोबार जरुरी है लाखो बच्चो का कुछ नहीं

नीट2017 के बाद से ही सबको पता है कि किसने क्या किया है लेकिन इसके उलट में FB पर कुछ लोगों की पब्लिसिटी और नाम कमाने के लिए बहुत सी हरकतें सामने आई है जितना जोर हम लगा रहे हैं कि हम भ्रष्टाचार को खत्म करके नीट2017 को दोबारा करवाएंगे जिससे 600 करोड़ का घोटाला बंद होगा उधर इसके विपरीत में कुछ लोग ऐसे भी है जो अपनी ओर से पूरा दम लगा रहे हैं कि एग्जाम दोबारा नहीं होगा और इन महाशय ने तो यहां तक कह दिया नीट बिल्कुल नहीं होगा मुझे यह समझ में नहीं आता कि वह सुप्रीम कोर्ट का जज है या फिर भगवान???

एक अध्यापक है और अध्यापक ही रहे इससे ज्यादा अपना राजनीतिक दिमाग इन बच्चों के भविष्य पर ना लगाएं कम से कम अगर भ्रष्टाचार के खिलाफ नहीं लड़ सकते तो अपना भाषण से इन बच्चों को डिप्रेशन और सुसाइड करने पर मजबूर ना करें पिछले 2 दिनों से मेरे पास बहुत मैसेज आ रहे हैं कि एक अध्यापक का ऐसे-ऐसे कोई पोस्ट आया है जो यह बोल रहा है कि सब कुछ सारे एग्जाम सारा फर्जीवाड़ा वही खत्म करता है तो उसके लिए मेरी दो लाइन ही यही है कि भाई कोई भी एक आदमी एग्जाम दोबारा नहीं करवा सकता ना मैं करवा सकता ना कोई और एक यूनिटी चाहिए होती है और जो कुछ करवाते हैं वह स्टूडेंट यूनियन करवाती है

 अगर छात्रों में एकता है तो वह कुछ भी कर सकते हैं यह नहीं है कि 2015 के बाद से जितने फर्जीवाड़े हुए हैं वह सब आपने दूर किया है सबको पता है कि आपने अपना नाम कैसे कमाया है माला पहन कर बैठ जाने से कोई बहुत बड़ा आदमी नहीं बनता बड़ा दुख हुआ जब 2015 में बहुत सारे लोगों ने मेरे पास मैसेज किया कि हमने भी स्ट्रगल किया था हमारा कहीं पर नाम नहीं इस बंदे ने अपना अकेले में नाम आगे रखा इतना सब होने के बाद भी कुछ लोग अपना नाम हर जगह चिपकाते रहे शर्म आनी चाहिए उनको इस बार जब की सारी हदें पार की गई तो कुछ लोग सिर्फ मैं और मेरा कर्म ही फैसला वाली बेवकूफी भरी लाइन बोल रहे हैं और जो बच्चों में अफवाह फैला रहे हैं कि 8 जून को ही रिजल्ट आएगा किसी से डरने की जरूरत नहीं है वजह आप खुद जाने

1- हाईकोर्ट का स्टे है और सुप्रीम कोर्ट का फरमान है कि हाई कोर्ट ही फैसला करेगा तो भाई जिसकी औकात हो नीट की एक कॉपी चेक करके दिखा दो खुल्ला चैलेंज दे रहा हूं 12 जून तक स्टे है और अगर कर देते हो तो कांसेप्ट ऑफ़ हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट झेलने के लिए रेडी रहे
2- Definition of Neet according to Supreme Court decided already violent on which high court give stay and ask clarification from CBSE till stay on each process
3- अब अगर इन सब से बच गई CBSE तो Leak matter  FIR की क्लियर फिकेशन देना पड़ेगा जिसके बारे में सुप्रीम कोर्ट ने कहा है अब इतनी हरकतों को भी कोई अनदेखा करे या तो उसकी मंदबुद्धि है या फिर भ्रष्ट
 फिर चाहे कितना ही बोलते रहो सत्यमेव जयते अगर नीट दोबारा होता हुआ देखकर  आप तो सपोर्ट करोगे तो तुझसे बेशर्म आदमी दुनिया में कोई नहीं सकता तो क्योंकि सबको पता है आप शुरुआत से लेकर कल तक  सबको यही बोल रहे थे  कि चाहे जितना जोर लगा लो  यह एग्जाम  दोबारा नहीं होगा और ना ही हमें आपकी जरूरत है मेरी बात समझ में आई हो तो अपने खुद के फायदे के लिए इन बच्चों के भविष्य के साथ खेलना बंद करो मेरी हाथ जोड़कर आपसे विनती है और जहां तक रही नीट2017 की बात वह हम करवा कर रहेगे चाहे तुम जितना भी जोर लगा लो
 रवि जांगड़ा द्वारा भेजे गए मेल पर आधरित



Comments

  1. Amit gupta is the main root cause....

    ReplyDelete
  2. AG khud fake hai, wo apni publicity ke lie sankalp se bheek mangta tha taki uska carrier point chal ske.

    ReplyDelete
  3. I think the exam should be held with honestly,,,but there are some people who don't like this..so,we have to do something against them.

    ReplyDelete
  4. Amit Gupta is selfish. His student is scoring well so he's not supporting re NEET. In AIPMT 2015 he was fighting for truth. What happened now?

    ReplyDelete
  5. AG neh tow proof kardia ki wo sab jhut bol raha tha....
    mujhe lag raha hen kahin na kahin wo v question leak per juda hua her

    ReplyDelete
  6. In our hearts we all know who the real opportunistic is. Sankalp the so called student saviour brand is itself fund hungry and trying its best to control students. The students who had studied really hard are suffering. But the have forgotten that bill comes due. Always. And that's the law of nature. You will get what u deserve soon, cheap mean and publicity hungry people. #NoReNEET.

    ReplyDelete
  7. इतना ज़्यादा घोटाला नीट में किसी वर्ष नही हुआ है
    , 2015 में पेपर लीक था मामूली सा, पर इस साल कई जगह से पेपर लीक हुआ हैं. और सबसे बड़ा scam अलग अलग question पूछना, आप सोच नही सकते ये कितना बड़ा scam है, इस exam का slogan था "one nation one exam" पर इस slogan को सीबीएसई ने तहस नहस कर दिया है, पर सबसे बड़ी बात पंकज तलवार जी ने बताया की उनके इंस्टिट्यूट कैरियर पॉइंट से 2 छात्रों के toppers rank आने वाले हैं, और में ये सोचता हूँ की अगर वो सहिमे rank के काबिल होंगे तो ReNEET में भी अच्छा स्कोर करेंगे. पर मेरे सोचने से कुछ अलग नज़र आ रहा है क्योंकि अमित गुप्ता नामके शिक्षक जो की पिछले वर्ष संकल्प चैरिटेबल ट्रस्ट के गुण गाते थे इस साल उनको बहुत बुरा कह रहे हैं क्योंकि वो ReNEET के लिए जीजान से लड़ रही है, अमित गुप्ता नही चाहते ReNEET हो उनके पोस्ट में साफ HATE SPEECH देखने को मिलती है, ReNEET ,मेरे इस comment से आपको काफी कुछ समझ आजाना चाहिए. धन्यवाद!

    ReplyDelete
  8. Politics & corruption are the main cause of such unfairness in highly prestigious exams. Every year students facing the same kind of problem in medical exams.why we don't demanding some other authority for conducting the exams except CBSE.

    ReplyDelete
  9. मेडिकल एग्जाम के घोटाले बाज को हमाम में नंगा किया जायेगा ये खबर अभी लगातार जारी रहेगी सभी से निवेदन है आप अपने विचार एग्जाम को लेकर लगातार देते रहे

    ReplyDelete
  10. Samajh me to mujhe bhi nhi aata ki jab 2014 me cheating hui thi to puri imandari se sabko pakda aur exam waapis hua 2017 me kuch log kh rhe hai ki leak hua hai jabki officials ko khe rhe hain ki wo sab bike hua hain phele sab imandar the aur sab baiman ho gye just think about it aur haan agar paper waapas karwana kuch solution hota to 2 saal main ho jata jiski glti hai Unko pakdo mehnat karne waalo mentally harris krna band kro! Opportunists

    ReplyDelete
  11. Samajh me to mujhe bhi nhi aata ki jab 2014 me cheating hui thi to puri imandari se sabko pakda aur exam waapis hua 2017 me kuch log kh rhe hai ki leak hua hai jabki officials ko khe rhe hain ki wo sab bike hua hain phele sab imandar the aur sab baiman ho gye just think about it aur haan agar paper waapas karwana kuch solution hota to 2 saal main ho jata jiski glti hai Unko pakdo mehnat karne waalo mentally harris krna band kro! Opportunists

    ReplyDelete

Post a Comment