मुकेश अम्बानी रिलायंस इंडस्ट्रीज पर कारोबारी रोक SEBI Bans Reliance For 1 Year

मुकेश अम्बानी रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआइएल) पर कारोबारी रोक:- SEBI Bans Reliance For 1 Year नई दिल्ली पूंजी बाजार नियामक सेबी ने शुक्रवार को देश की दिग्गज कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआइएल) पर एक साल के लिए इक्विटी वायदा कारोबार करने पर रोक लगा दी। रिलायंस के अलावा 12 अन्य पर भी नियामक ने प्रतिबंध की यह गाज गिराई है। मुकेश अंबानी की कंपनी पर फ्यूचर और ऑप्शंस (एफएंडओ) कारोबार में धोखाधड़ी के दस साल पुराने मामले में यह कार्रवाई की गई है। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने कंपनी को 1,000 करोड़ रुपये जुर्माने और ब्याज के रूप में भी चुकाने का आदेश दिया है। रिलायंस ने कहा है कि वह इस आदेश को चुनौती देगी।

यह मामला आरआइएल की सहयोगी कंपनी रिलायंस पेट्रोलियम से जुड़ा है। इसमें रिलायंस पेट्रोलियम के शेयरों में एफएंडओ सेगमेंट में कारोबार करते समय कथित तौर पर धोखाधड़ी की गई थी। शेयर बाजार में लिस्टेड रही इस कंपनी को बाद में रिलायंस इंडस्ट्रीज में मिला दिया गया था। आरआइएल ने इससे पहले मामले का सहमति से निपटारा करने की अर्जी दी थी, मगर सेबी ने कंपनी के प्रस्ताव को खारिज कर दिया था। पिछले कुछ महीनों के दौरान ही इस दस साल पुराने मामले में कानूनी कार्यवाही की प्रक्रिया में तेजी आई थी।1मामले में सेबी के पूर्णकालिक सदस्य जी. महालिंगम ने 54 पन्ने का आदेश जारी किया है।

 इसमें रिलायंस को 447 करोड़ की मूल राशि और उस पर 29 नवंबर, 2007 से अब तक 12 प्रतिशत की दर से करीब 500 करोड़ रुपये बतौर ब्याज चुकाने को कहा गया है। इस हिसाब से कंपनी को कुल करीब 1,000 करोड़ रुपये भरने होंगे। कंपनी को यह राशि 45 दिनों के भीतर चुकानी होगी। महालिंगम ने कहा है कि जिस तरह इतने बड़े पैमाने पर बाजारों में धोखाधड़ी वाला कारोबार किया गया है, उसे देखते हुए ही कड़ी कार्रवाई की गई है

Comments